Rohit Shekhar Murder Case: कौन है रोहित शेखर की पत्नी अपूर्वा?

Rohit Shekhar Murder Case: कौन है रोहित शेखर की पत्नी अपूर्वा?

कौन हैं अपूर्वा तिवारी?

इंदौर की रहने वाली 34 साल की अपूर्वा पेशे से वकील हैं,दोनों की मुलाकात मेट्रोमोनियल साइट के जरिए हुई थी. इसके बाद 2017 में दोनों लखनऊ में मिले थे और दिल दे बैठे थे. फिर 31 मार्च को रोहित और अपूर्वा की सगाई हुई और 11 मई को दिल्ली में पांच अशोका रोड स्थित आनंद भवन में सात फेरे लिए थे. जिस वक्त रोहित और अपूर्वा की शादी हुई, उस वक्त एनडी तिवारी मैक्स अस्पताल में भर्ती थे.

पुलिस के मुताबिक अपूर्वा ने शादी रोहित की हैसियत और रसूख देखकर की थी लेकिन वो जो सपने देखकर आयी थीं वो एक एक कर चकनाचूर होने लगे,दोनों के बीच रोहित की आदतों ,संपत्ति और पारिवारिक रिश्तों के लेकर झगड़ा होने लगा,झगड़ा इतना बढ़ गया कि एक ही घर में रोहित और अपूर्वा अलग अलग कमरे में रहने लगे.

अपूर्वा ने पुलिस से कही ये बात…
रोहित शेखर की मौत की वजह पहले हार्ट अटैक या ब्रेन हेमरेज बताई गई थी. लेकिन पोस्टमार्टम की रिपोर्ट में खुलासा हुआ कि शेखर की मौत इन वजहों से नहीं बल्कि उनकी गला दबाकर हत्या की गई है. इसके बाद पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी. सूत्रों की मानें तो पुलिस को दिए बयान में पत्नी ने दावा किया था की रात वो शेखर के साथ अंतरंग थी और हो सकता है कि मुंह और गला दब गया हो.

 

रोहित शेखर मर्डर केस में पुलिस के हाथ खाली, पत्नी के बयान में उलझी गुत्थी

रोहित शेखर के कत्ल की मिस्ट्री लगातार गहराती जा रही है. उनकी पत्नी का बयान सवालों के घेरे में है. पुलिस सूत्रों की मानें तो ताजा बयान में उनकी पत्नी ने ये माना है कि वह 15-16 अप्रैल की रात उनके कमरे में गई थी. लेकिन महज इस वजह से की वह उनकी पत्नी है और पति-पत्नी में जो रिश्ते होते हैं उसके लिए वो वहां गई थी. हो सकता है इस दौरान कुछ ऐसा हुआ हो जिससे रोहित की मौत हुई हो. लेकिन इससे रोहित की मौत हो सकती है ऐसा पुलिस को लगता नहीं. हालांकि, पुलिस का मानना है कि एक वकील होने के नाते उसे पता है कि क्या बोलना है और क्या नहीं.

बता दें कि रोहित उस वक्त बेहद नशे में था. ऐसे में सवाल उठता है कि अगर ऐसा हुआ भी तो अपूर्वा उसे तुरंत अस्पताल क्यों नहीं ले गई. अपूर्वा का ये भी कहना है कि रोहित को ज्यादा समय तक सोने की बीमारी थी. ऐसे में उन्हें थोड़ा भी शक नहीं हुआ कि बिस्तर पर लेटे हुए रोहित मर चुका है. इसलिए उसने न उसे जगाने की कोशिश की और न ही उन्हें डॉक्टर के पास ले जाने की.

पुलिस के मुताबिक रोहित घर की पहली मंजिल के कमरे में था. उसके बगल वाले कमरे में पत्नी अपूर्वा, सामने वाले कमरे में ड्राइवर अखिलेश और उसके ऊपर दूसरी मंजिल पर नौकर भोलू था, पुलिस को शक इन्हीं तीन लोगों पर है. पुलिस घर के बाकी सभी लोगों को करीब-करीब क्लीन चिट दे चुकी है.

पुलिस के मुताबिक सीसीटीवी जांच से पता चला कि पहली मंजिल पर इन तीन लोगों के अलावा न कोई आया न कोई गया. पुलिस का कहना है कि ड्राइवर और नौकर कत्ल में शामिल होंगे, इसकी कोई वजह अब तक नहीं मिली है. अपूर्वा सुप्रीम कोर्ट में वकील हैं इसलिए उन्हें हत्या करने का अंजाम भी पता होगा. हो सकता है हत्या किसी आवेश में आकर की गई हो.

 

Share This

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus (0 )